sarkariyug.com

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना


एक स्वस्थ राष्ट्र के निर्माण के लिए ये आवश्यक है की उसके नागरिक स्वस्थ हों। स्वस्थ नागरिक का अर्थ है की एक राष्ट का हर एक सदस्य स्वस्थ हो। भारत की एक बड़ी आबादी गरीबी रेखा से निचे होने के कारण स्वस्थ भारत का निर्माण एक बड़ी चुनौती है। इसी चुनौती का सामना करने के लिए सबसे पहले आवश्यक है की सबसे पहले पहली कड़ी पर काम हो यानि की एक स्वस्थ शिशु का जन्म हो फिर उसे एक अच्छा पौष्टिक आहार मिले। इस आवश्यकता को समझते हुए भारत सरकार मातृ वंदना योजना लेकर आई जिसके तहत पहली बार गर्भ धारण कर रही भारतीय महिलाओं को आर्थिक मदद दी जाती है की वह पौष्टिक आहार ग्रहण कर सकें और एक स्वस्थ शिशु को जन्म दें।

क्या है प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना ?

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना भारतीय सरकार द्वारा वर्ष 2017 में शुरू की गई गर्भावस्था सहायता योजना है। यह योजना को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा संचालित किया जाता है। पहली बार जीवित शिशु को जन्म देने वाली सभी महिलाएं इस योजना का लाभ उठाने की पात्र हैं। इस योजना के अन्तर्गत 6000 रुपए तक की आर्थिक मदद 3 किश्तों में मुहैया कराइ जाती है। इस योजना का लाभ पहले जीवित शिशु को जन्म देने पर हे लिया जा सकता है , साथ ही आवेदन करने के लिए महिला की न्यूनतम उम्र 19 वर्ष होनी चाहिए। इस योजना के अंतर्गत नामांकन करने के लिए 3 फॉर्म भरे जाते हैं, जिन्हे की आंगनवाड़ी या फिर निकटतम स्वस्थ केंद्र में जाकर भरा और जमा किया जा सकता है।

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना का उद्देश्य :

• इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान आर्थिक मदद देना है। इससे वे गर्भावस्था के दौरान बढ़ती हुई पोषण (उचित खान -पान) की जरूरत को पूरा कर सकती हैं।

• साथ ही गर्भवती, स्तनपान कराने वाली महिलाओं और उनके बच्चो को कुपोषण का शिकार से बचाना भी इस योजना का एक मुख्य उद्देश्य है।

• कुपोषण के कारण होने वाली शिशुओं के मृत्यु दर में कमी लाना ।

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना के लाभ :

• इस योजना का लाभ आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की सभी महिलाएं उठा सकती हैं।

• इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करने वाली महिला की उम्र 19 वर्ष या फिर उससे अधिक होनी चाहिए।

• किसी अन्य योजना का लाभ उठा रहीं महिलयें इस योजना का पात्र नहीं बन सकती।

• जो पहले इस योजना का लाभ ले चुकी हैं वह इस योजना के अनतर्गत दोबारा लाभ नहीं ले सकती।

• इस योजना में आंगनवाड़ी सहायिका , आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं आशा कार्यकर्ता लाभ ले सकती हैं।

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत इस प्रकार लाभ मिलता है :

• योजना का लाभ उठा रही महिलाओं को मदद राशि सीधा उनके बैंक खाते में ट्रांसफर हो जाती है।

6000 की राशि का भुगतान इस प्रकार होता है :

• पहली किश्त- पहली किश्त 1000 रुपए की गर्भावस्था का पंजीकरण करवाने पर मिलती है ।

• दूसरी किश्त- दूसरी किश्त 2000 रुपए की, गर्भावस्था के 6 माह के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जाँच करवाए जाने पर दी जाती है, यानि की प्रसव से पहले।

• तीसरी किश्त- तीसरी किश्त 2000 रुपए की, शिशु के जन्म का पंजीकरण एवं टीकाकरण का पहला चक्र पूरा होने पर दी जाती है।

• दूसरी और तीसरी किश्त बीच एक 1000 रुपए की आर्थिक मदद और दी जाती है जोकि जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रसव के दौरान दी जाती है। इस प्रकार महिला को 6000 रुपए की मदद मुहैया कराइ जाती है।

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना- जरुरी दस्तावेज :

इस योजना के अंतर्गत आवेद करने हेतु निम्नलिखित दस्तावेज प्रस्तुत करना आवश्यक है :

• राशन कार्ड

• माता पिता दोनों का आधार कार्ड

• बच्चे का जन्म प्रमाण पात्र (तीसरी किश्त के लिए)

• बैंक खाते की पासबुक

• सरकारी अस्पताल या पी च ए सी द्वारा जारी स्वस्थ कार्ड

• सरकारी संस्थान / विभाग द्वारा जारी कर्मचारी पहचान पत्र

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना के लिए कैसे करें आवेदन :

• प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना का आवदेन केवल ऑफलाइन माधयम से ही किया जा सकता है।

• इस योजना में पंजीकरण करवाने के दो तरीके हैं :

• पहला, आंगनवाड़ी केंद्र में जाकर

• दूसरा, स्वास्थ सुविधा केंद्र पर जाकर। यहाँ आशा कार्यकर्ता इस प्रक्रिया में सहायता करती हैं।

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना में आवेदन के लिए 3 फॉर्म भरने होंगे। :

• सबसे पहले आंगनवाड़ी या फिर निकटतम स्वास्थ केंद्र पर जाकर पहला फॉर्म जमा करना होगा।

• उसके बाद समय-समय पर दूसरा एवं तीसरा फॉर्म जमा करना होगा।

• तीनो फॉर्म जमा होने के बाद आंगनवाड़ी या स्वाथ्य सेवा केंद्र से एक पर्ची जारी की जाती है।

• तीनो फॉर्म महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड किये जा सकते हैं।

Download Link : https://wcd.nic.in/schemes/pradhan-mantri-matru-vandana-yojana

प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना से जुड़े जरुरी लिंक :

https://wcd.nic.in/sites/default/files/PMMVY Scheme Implemetation Guidelines ._0.pdf इस लिंक पर जाकर आप योजना से जुडी सभी जानकारी पढ़ सकते हैं। साथ ही इसी लिंक से जुडी पीडीऍफ़ फाइल से आप तीनो आवेदन फॉर्म भी प्राप्त कर सकते हैं। इस फाइल में पेज 79 -88 तक तीनो फॉर्म हैं।

https://wcd.nic.in/sites/default/files/FINAL PMMVY (FAQ) BOOKELT.pdf इस लिंक पर जाकर आप इस योजना से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के जवाब जान सकते हैं।

उम्मीद है की इस लेख को पढ़कर आपको प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना को समझने में होगी। लेख के अंत में जो लिंक दिए गए हैं उनपर क्लिक करके आप इस योजना की बारीकियों को विस्तार से समझ सकते हैं।

View similar post

Comments ()

Leave a comment

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है

सुकन्या समृद्धि योजना केंद्रीय सरकार द्वारा 2015 में शुरू की गई एक छोटी बचत योजना है। आज के बढ़ती महंगाई के दौर में यह निचले वर्ग तथा माध्यम वर्ग के लिए अत्यंत लाभका ...

किसान क्रेडिट कार्ड योजना

कहने को तो भारत में कृषि रोजगार का सबसे बड़ा जरिया है, वहीँ जीडीपी में इसका योगदान काफी कम है। आज भी भारतीय किसान तकनीकी कृषि साधनो के अभाव में वही पुराने तरीकों से ...

अटल पेंशन योजना

आज के महंगाई और अनिश्चितता के दौर में आने वाले कल के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता। ऐसे में आने वाले कल के बारे में गंभीरता से सोचना और भी जरुरी हो जाता है। आज आय ...